Blog

कांग्रेस की राष्ट्रपति प्रत्याशी मीरा कुमार ने 6 मिनट के भाषण में 60 बार किया इन्टरप्ट, सुषमा स्वराज ने खोली पोल!

0

कांग्रेस की राष्ट्रपति प्रत्याशी मीरा कुमार को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है और हमेशा शांत रहने वाली सुषमा स्वराज ने इस बार पोल खोली है! राष्ट्रपति पद के लिए बिहार के पूर्व गवर्नर राम नाथ कोविंद का नाम सामने रखा गया है तो वहीं विपक्ष द्वारा कांग्रेस नेता और पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को चुनावी मैदान में उतारा गया है! हमेशा शांत रहने वाली सुषमा जी ने खोल दी मीरा कुमार की पोल!

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विपक्ष द्वारा उतारी गईं मीरा कुमार पर निशाना साधा है! रविवार को सुषमा स्वराज ने चार साल पुराना वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया है, जिसपर 30 अप्रैल, 2013 की तारीख डली हुई है! इस वीडियो के साथ सुषमा स्वराज ने लिखा है यह देखिए कैसे पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार विपक्ष के नेताओं से बात करती हैं! यू ट्यूब से हमें वो ही विडियो प्राप्त हुआ है!

जब कांग्रेस सत्ता में थी, मीरा कुमार स्पीकर थी! सुषमा स्वराज नेता प्रतिपक्ष थी! उनके 6 मिनट के भाषण में मीरा कुमार ने पूरे 60 बार इन्टरप्ट किया जबकि उन्हें 20 मिनट टाइम मिला था! ये टोकाटाकी इसलिए क्योकि सुषमा ने भ्रष्टाचार पर बोला जो स्पीकर मीरा को पसंद नही आया!

इस वीडियो के जरिए सुषमा स्वराज दिखाना चाहती है कि कैसे मीरा कुमार यूपीए के खिलाफ किसी को भी बोलने नहीं देती है और उन्हें बार-बार बीच में रोकती रहती हैं। इस वीडियो में सुषमा स्वराज तत्कालीन यूपीए सरकार में विपक्ष के तौर पर सरकार की नीतियों के खिलाफ भाषण दे रही हैं और स्पीकर मीरा कुमार उन्हें बार-बार टोके जा रही हैं।

क्या ये राष्ट्रपति बनने योग्य है? देखिये वीडियो:-

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

VIDEO! मोदी US यात्रा, भारत अमेरिकी ड्रोन को सीमा पर करेगा तैनात, सदमे में पाकिस्तान – साफ़ दिखी घबराहट !

0

पाकिस्तान हमेशा से अपने देश की विकाश को दरकिनार कर भारत की बर्बादी पर ज्यादा तवज्जो देता रहा है, वहाँ अबतक जितनी भी सरकार आई लगभग सब ने भारत के खिलाफ जहर उगलने का ही काम किया है! इसके अलावे जिस किसी ने भी भारत के साथ दोस्ती की हाथ बढ़ाने की कोशिश की उन नेताओं को इसका खामयाजा बखूबी भुगतना पड़ा! क्युकी वहां की सेना तख्ता पलट कर देती है!

एक बात तो सत्य है की पाकिस्तान जब जब भारत से भिड़ने की कोशिश की है तब तब उसे मुहकी कहानी पड़ी है! भारतीय शुक्रगुजार है अपने सैनिकों का जिन्होंने अपनी जान की परवाह किये बिना पाकिस्तान के नपक इरादों को नेस्तोनाबूत कर दिया! चाहे वो 1971 का युद्ध हो या करगिल!

अब पाकिस्तान भारत के एक बड़े कदम से तिलमिला रहा है। दरअसल भारत अमेरिका से ख़रीदे ड्रोन सीमा ओर तैनात कर रहा है। ताकि पाकिस्तान की और से होने वाली हर गतिविधि पर नज़र रख सके। क्योकि आये दिन सीमा ओर पाकिस्तान पर सीज फायर का उलंघन किया जाता है। और नापाक इरादों से सीमा से इस पर घुसपैठ की जाती है! और जब बात देश की सुरक्षा की हो तो उसमें कोई कमी नही की जाती। इसलिए ही भारत अब सीमा पर ड्रोन से निगरानी करेगा। और हर एक गतिविधि पर नज़र रकः कर मुहतोड़ जवाब देने को तैयार होगा

लेकिन पाकिस्तान में इस कदम को लेकर काफी घबराहट का माहौल है। पाकिस्तानी मीडिया ने आपश् में बात चीत करते हुवे कहा कि कहीं भारत पाकिस्तान पर दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक करने के तो नही सोच रहा है। उनकी ये बेचैनी साफ़ बयां करती है कि उनमें भारत की तरक्की को लेकर कितना खौफ है। पाक मीडिया इस बात पर चर्चा करते हुवे काफी घबराये हुवे थे।

देखें पाक मीडिया का ये वीडियो !
89

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

VIDEO : भारत से जीत भी गये तो क्या फायदा जब कोई भी हमारे साथ खेलना नही चाहता – पाक मीडिया !

0

पाकिस्तान में भी भारत के ही तरह क्रिकेट काफी लोकप्रिय है, पाकिस्तान के लोग भी इस खेल को सिर्फ खेल के तौर पर नहीं लेते उसे अपने देश की इज़्ज़त से जोड़कर देखते है! जब कभी भी पकिस्तान की टीम भारत से भिड़ती है और मुकाबले में हार जाती है तो पाकिस्तानी खिलाड़ियों का जीना दूभर हो जाता है! अभी हाल ही में चैम्पियंस ट्रॉफी के लीग मुकाबले में भारत ने पकिस्तान को करारी शिकस्त दी थी,

जिसके बाद पाकिस्तानी मीडिया में हाहाकार मच गया था और कई पाकिस्तानियो ने तो अपने टीवी तक को तोड़ डाले थे! फिर फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान ने भारत को हरा दिया। जिसके बाद भारत को आलोचना शिकार होना पड़ा। कहने का मतलब ये है कि भारत पाक के बीच होने वाला क्रिकेट किसी युद्ध से कम नही होता । दोनों देशों की इज़्ज़त से जुड़ा होता है ये मैच। दोनों देशों के लोग अपनी टीम के जितने की दुआएं करते हैं।

इस बीच जब पाकिस्तान ने चैंपियन ट्रॉफी के फाइनल में हरा दिया तो पाकिस्तानीयो ने भारत वालो को काफ़ी ट्रोल किया और काफि मज़ाक उड़ाया। क्योकि ये पल पाकिस्तान के लिए काफ़ी बड़ा पल था क्योंकि भारत को हराना उनके लिए किसी सपने से कम नही था। ।

दूसरी तरफ पाक मीडिया में नही बहस छिड़ी कि हमने भारत को भले ही हरा दिया लेकिन क्या फायदा है इसका कोई टीम तो हमारे साथ खेलना ही नही चाहती। हम अलग थलग से पड़ गए है।अफगानिस्तान जिसे हमने क्रिकेट खिलाना सिखाया है वो आज हमसे मुँह फेरता है और हमारे साथ खेलने को मना करता है। तो ऐसी जीत का क्या फायदा है कि जब कोई भी देश हमारी टीम की इज़्ज़त तक नही करता है। बाकि वीडियो आप खुद देखिए।

video

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

9वीं फेल तेजश्वी यादव ने रोजगार पर केंद्र सरकार को दी फालतू की नसीहत, लोगों ने याद दिलाई औकात !

0

लालू प्रसाद यादव के बारे में कौन नही जानता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके हैं। बिहार की राजनीती में अगर सबसे ज्यादा चर्चित नाम है तो वो है लालू प्रसाद यादव। जिन्होंने कई सालो तक बिहार में राज किया अभी भी सरकार में सहयोगी हैं लेकिन आज तक बिहार की दसा नही बदल पाये। ना ही इनके पास कोई ऐसी रणनीति है जिससे बिहार का विकास हो। इन्होंने तो सिर्फ बिहार की जनता को धोखा ही दिया है। बिहार बहुत पिछड़ा हुआ राज्य है। बिहार में गरीबी अपने परचम पर है।

बिहार के 9वीं फेल उपमुख्यमंत्री तेजश्वी यादव के बारे में सभी जानते हैं। ये भी ट्विटर पर खासे एक्टिव रहते हैं। विपक्षी पार्टी पर टोंड कसते नज़र कटे हैं। खुद 9 वीं फेल हैं लेकिन ये ज्ञान पढ़े लिखों को देते हैं। तेजश्वी यादव के पास खुद की मेहनत से कुछ नही है। उसमें ना ही कोई काबिलियत है तेजश्वी एक फ्लोफ क्रिकेट खिलाड़ी रह चुके हैं। और सबसे अहम बात कि पढे लिखे भी नही हैं। तेजश्वी यादव तो बस जातिवाद की राजनीति और परिवारवाद के कारण राजनीति में हैं। वरना उसकी अपनी कोई पहचान नही है।

अब तेजश्वी यादव ने रोजगार पर केंद्रसरकार को नसीहत दे डाली हैं। खुद के राज्य की दसा तो सुधार नही पा रहे है और केंद्र सरकार को ज्ञान दे रहे हैं। जबकि खुद के राज्य माँ शिक्षा स्तर सबसे खराब है। तेजश्वी यादव ने रोजगार के लिए कहां की –

देखें तेजस्वी का ट्वीट !

अगले पेज पर देखें कैसे यूज़र्स ने तेजस्वी को उसकी असली औकात बतायी…

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

राहुल कँवल से अमित शाह ने कहा “आज तक तू चुप है, आज मै पूछना चाहता हूँ तू क्यों चुप है?

0

राहुल कंवल एक ऐसे पत्रकार जो पत्रकारिता के वजह से कम और कांग्रेस खेमे के पत्रकारों के रूप में जाने जाते है! जिन्होंने अन्य कांग्रेस खेमे के पत्रकारों की तरह बहुत कम समय में ढेर सारा दौलत और सोहरत हासिल किया! यु तो देश में हजारो दंगे हुए लेकिन इन पत्रकारों के जुबान पर हमेशा गुजरात दंगा ही रहता है क्युकी वहां बीजेपी की नरेंद्र मोदी सरकार थी! और हर वक़्त बीजेपी के नेताओ को घेरने की कोशिश रहती है! किसी तरह से बीजेपी के नेताओ से कुछ ऐसा बुलवाया जाये जिससे इनके न्यूज़ चॅनेल की TRP बढे!

गुजरात दंगो के बाद इन पत्रकारों को एक और मुद्दा मिला बीजेपी को घेरने का “दादरी”! आपको बता दे की दादरी में अक्लख अहमद नाम के एक सक्श की बीफ खाने और रखने के आरोप में भीड़ ने पिट-पिट कर मार डाला था, जिसका बीजेपी से कोई लेना देना नहीं था! फिर भी कुछ तथाकथित सेक्युलर पत्रकार बीजेपी को इस मामले में खूब लपेटा!

राहुल कँवल भी अमित शाह के साथ इंटरव्यू में दादरी से सम्बंधित प्रश्न पूछ डाले उसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जो जबाब दिया वो वाकई देखने लायक है! राहुल कँवल ने खा की कुछ बीजेपी नेता दादरी घटना में आग में घी डालने का काम कर रहे है, तो अमित शाह ने जब दिया की वहां सबसे पहले कौन गया, राहुल गाँधी गए, ओवैसी गए और केजरीवाल उसके बाद वहा के बीजेपी के संसद महेश शर्मा गए!

आगे अमित शाह ने कहा कि क्या आपने केजरीवाल, राहुल गाँधी और ओवैसी से सवाल पूछा, आप मुझसे क्यों पूछ रहे हो जाओ जाकर पहले उनसे पूछो की इसमें पॉलिटिक्स कौन कर रहा है!

अगले पेज पर देखिये वीडियो जब अमित शाह ने राहुल कँवल से कहा “आज तक तू चुप है आज मै पूछना चाहता हूँ तू क्यों चुप है?…

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

DSP अयूब पंडित की हत्या की रात को वहां क्या हुआ था? देखिये चश्मदीदों ने क्या कहा!

0

कश्मीर के श्रीनगर के नौहट्टा इलाके में गुरुवार को शबे कद्र के मौके पर तैनात डीएसपी मोहम्मद अयूब पंडित की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी! इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए श्रीनगर उत्तरी क्षेत्र के एसपी सजाद खालिक भट्ट को हटा दिया गया है! दरअसल, शहीद अयूब पंडित जामा मस्जिद के बाहर सुरक्षा में लगे थे ताकि नमाज पढ़ने आए लोगों को दिक्कत न हो, लेकिन यहां पर मौजूद कुछ लोगों की भीड़ ने उन्हें बुरी तरह पीट-पीटकर मार डाला!

अयूब पंडित एक जज़्बाती पुलिस अफ़सर ने अपने तमाम सिपाहियों को इफ़्तार के बाद छुट्टी दे दी और ख़ुद नमाज़ियों की सुरक्षा में लग गये! लेकिन, सलामती की दुआ मांगने वाली भीड़ ने उसे अपना दुश्मन समझ लिया और उसकी सलामती को तार-तार कर दिया! मस्जिद के अंदर मीरवाइज़ उमर फ़ारूक़ मौजूद थे और उन्मादी भीड़ DSP अयूब के बदन से एक एक कपड़ा नोच रही थी और लात-घूसे बरसा रही थी!

डीएसपी मोहम्मद अयूब पंडित को श्रद्धांजलि देने जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती भी पहुंची और उन्होंने कहा, ‘जो लोगों को हिफाजत के लिए फर्ज निभा रहा है उसे मार देने से शर्मनाक वाकया कुछ हो ही नहीं सकता!’

प्रदेश के एसपी वैद्य ने हत्या को दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताया है! उन्होंने कहा कि डीएसपी को मस्जिद के पास इसलिए तैनात किया गया था ताकि वह असामाजिक तत्वों को माहौल खराब न करने दें और लोग शांतिपूर्वक नमाज पढ़ सकें! लेकिन वह जिनकी सुरक्षा के लिए तैनात थे, उनमें से कुछ ने उनकी जान ले ली! यह अत्यंत दुखद है!

अगले पेज पर देखिये वीडियो, अयूब पंडित की हत्या की रात को वहां क्या हुआ था? चश्मदीदों ने क्या कहा…

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

वीडियो: कश्मीर में पत्थरबाजी का ऑफर Rs.1000 रोजाना, मना करने पर जान से मारने की धमकी!

0

जम्मू कश्मीर: पिछले कुछ समय से कश्मीर में आतंकियों और उनका साथ देने वालो का मनोबल काफी बढ़ा हुआ है! पहले तो ये कश्मीरी युवा सिर्फ सेना पर पथरबाजी करते थे लेकिन अब हालत ऐसे बन गए है की पुलिस के जवानो को निशाना बनाकर उन्हें मौत के घाट उतारा जा रहा है! 2 दिन पहले जम्मू कश्मीर पलिस के DSP आयूब पंडित को मस्जिद के बहार लोगो ने पिट-पिट कर मार डाला! उनका कशूर सिर्फ इतना था की वो उन्ही जाहिलो के सुरक्षा में तैनात थे और एक भारतीय होने का फर्ज अदा कर रहे थे!

कश्मीर में सेना के ऊपर पथरबाजी भी एक अहम् समस्या है, जिसके लिए पाकिस्तान अलगावादी नेताओ को पैसे देता है और ये अलगावादी नेता लोकल कश्मीरी युवावो को गुमराह कर पथरबाजी करते है और बदले में उन्हें 500-1000 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से दिया जाता है! कुछ कश्मीरी युवा पैसो के खातिर पथरबाजी करते है तो कुछ के दिल में भारतीय सेना के खिलाफ इतनी नफरत भरी जाती है की उन्हें भला बुरा कुछ नहीं दीखता और वो सेना के ऊपर फेकने में फक्र महशुश करते है!

लेकिन अब एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमे कश्मीरी युवावो को जबरन पत्थर फेकने के लिए मजबूर किया जा रहा है! रिपब्लिक टीवी ने ऐसे ही दो कश्मीरी युवावो का वीडियो दिखाया है, जिसमे उनके पडोसी या फिर किसी दोस्त के द्वारा बार बार पथरबाजी करने के लिए धमकाया जा रहा है! दोनों लड़को ने पुलिस कम्पलेन दर्ज कराई है, उन्होंने अपने वयान में कहा है कि “उन्हें लगातार धमकिया मिल रही है को श्रीनगर जाकर पथरबाजी करो जिसके बदले में 1000 रुपये मिलेंगे!”

गौर करने वाली बात यह है की जब उन्होंने पथरबाजी करने से मना किया तो उन्हें धमकाया गया की 2 दिनों के भीतर उन्हें उठवा लिया जायेगा और मरवा दिया जायेगा! इस धमकी के बाद इन दोनों युवावो ने पुलिस के पास जाकर शिकायत दर्ज कराई!

देखिये ये वीडियो जिसमे इन्होने क्या कहा:-

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

DSP अयूब पंडित की हत्या पर गुस्साये परेश रावल ने एक के बाद एक ट्वीट से मचाई सनसनी !!

0

हाल ही में कश्मीर के नौहट्टा इलाके में गुरुवार देर रात करीब साढ़े बारह बजे डीएसपी मोहम्मद अयूब पंडित जामिया मस्जिद के बाहर अपनी ड्यूटी कर रहे थे. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मोहम्मद अयूब पंडित कश्मीरी अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक़ की सुरक्षा में तैनात थे. मिली जानकारी के अनुसार मीरवाइज उमर फारूक़ उस समय मस्जिद के अंदर मौजूद थे. जिस समय यह घटना घटी उस समय अयूब पंडित सादे कपड़ो में थे. वह मस्जिद से बाहर आ रहे लोगो की तस्वीरें खीच रहे थे जिससे भीड़ गुस्से में आ गई.

सूत्रों कि माने तो लोगो ने जब आयूब को पकड़ने की कोशिश की तो उन्होंने अपनी सुरक्षा में पिस्तौल निकाल दी और गोलियां चलाने लगे. जिससे इस गोली-बारी में तीन लोग घायल हो गये. इसके बाद भीड़ ने उन्हें पत्थर मार-मारकर उनकी हत्या कर दी. हत्या करने से पहले उन्हें निर्वस्त्र कर दिया गया था. मुस्लिम भीड़ द्वारा डीएसपी की हत्या करने पर अब मीरवाइज उमर फारूक पर सवाल उठने लगे है. देशभर में लोग उनकी आलोचना कर रहे है. बॉलीवुड एक्टर और बीजेपी सांसद परेश रावल ने मीरवाइज को जमकर लताड़ लगाई है.

परेश रावल ने ट्वीट करके लिखा है कि ” मीरवाइज केवल बॉर्डर के दूसरी ओर के पटाखों की आवाज़ सुन सकते है, लेकिन अयूब पंडित की कमरे को चीर कर आती हुई चीखें नहीं सुन सकता” यहाँ पर आप परेश द्वारा किया हुआ ट्वीट भी पढ़ सकते है.इस घटना के बाद परेश रावल ने अवॉर्ड वापसी गैंग पर भी अपना निशाना साधा और लिखा कि” मोहम्मद अयूब की हत्या पर अवार्ड वापसी गैंग और लिबरल लोग कहाँ हैं”.

पढ़े परेश रावल के एक के बाद एक ट्वीट !

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

VIDEO : यूपी CM योगी आदित्यनाथ ने मीरा कुमार पर कांग्रेस के सियासत की पोल खोल कर रख दी !

0

ज्ञात हो रामनाथ गोविंद को एनडीए का राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया गया है. उनके नाम की घोषणा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को की थी. कोविंद फिलहाल बिहार के राज्यपाल हैं. अमित शाह ने यह प्रेस कॉन्फ्रेंस दिल्ली में बीजपी की पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद की. रामनाथ कोविंद दलित समाज से आते हैं. वे मूल रूप से कानपुर, उत्तर प्रदेश से हैं. वो पिछले तीन साल से बिहार के राज्यपाल के तौर पर काम कर रहे हैं.

कोविन्द ने औपचारिक रूप से कल संसद में अपना नामांकन भर दिया है। उनके साथ भाजपा के वरिष्ठ नेताओं सहित प्रधान मंत्री मोदी शामिल थे। इसके अलावा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कैबिनेट मंत्री वेंकैया नायडू और वरिष्ठ नेता एल.के. आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी उपस्थित थे।रामनाथ कोविंद ने कहा कि वो अगर राष्ट्रपति बनते है तो वो उस पद की मर्यादा का खयाल रखेंगे। और ईमानदारी और निष्ठा से कार्य का निर्वहन करेंगे। उन्होंने कहा कि ये पद राजनीति से अलग होता है।

रामनाथ कोविंद के खिलाफ कांग्रेस ने मीरा कुमार को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। इस मौके पर उत्तरप्रदेश के CM और भाजपा के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और जमकर खरी खोटी भी सुनाई। राम नाथकोविन्द के खिलाफ पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार को उतारने पर योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर जबरदस्त हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को मीरा कुमार को राष्ट्रपति बनाना होता तो वो पिछली बार भी बना सकते थे। लेकिन क्योकि भाजपा ने रामनाथ कोविंद का नाम आगर किया तो ये बात कांग्रेस को हज़म नही हुई और लोहों को आपस में लड़वाने के लिए कांग्रेस ने मीरा कुमार को चुना।

देखें योगी आदित्यनाथ का वीडियो !

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

जयपुर पुलिस द्वारा ‘नो बॉल वाले फोटो’ और मैसेज के इस्तेमाल पर भड़के जसप्रीत बुमराह! कहा

0

नई दिल्ली: भारत-पाकिस्तान के बिच हुए चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट था जसप्रीत बुमराह द्वारा डाला गया नो बॉल जिस पर फखर जमा आउट हो गए थे लेकिन नो बॉल होने के कारन उन्हें जीवन दान मिल गया और उन्होंने 114 रन की पारी खेलकर अपने टीम को एक विशाल स्कोर की तरफ बढ़ाया! जहा देशवासियो में बुमराह के इस नो बॉल को लेकर काफी गस्सा था तो रही सही कसर जयपुर ट्रैफिक पुलिस ने पूरी कर दी! जयपुर पुलिस ने जेब्रा क्रॉसिंग को लेकर जागरूकता फ़ैलाने के लिए उनके इस नो बॉल वाले फोटो का इस्तेमाल किया

जसप्रीत बुमराह ने जयपुर ट्रैफिक पुलिस के इस कृत्य का ट्विटर पर विरोध जताया है! हलाकि अब जयपुर ट्रैफिक पुलिस ने बुमराह द्वारा विरोध जताने के बाद विवादित फोटो को हटा लिया है! जयपुर ट्रैफिक पुलिस ने फोटो के माध्यम से लोगों में ट्रैफिक नियम के प्रति जागरूकता फ़ैलाने के बहाने जसप्रीत बुमराह की इस नो बॉल वाले तस्वीर का इस्तेमाल किया था!

इसपर तस्वीर के इस्तेमाल किये जाने के बाद अब जसप्रीत ने विरोध जताते हुए लिखा कि, “जयपुर पुलिस यह बहुत अच्छा है और दिखाता है कि देश के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने वालों को आप कितना आदर देते हो। लेकिन चिंता ना करें मैं आपकी उन गलतियों का मजाक नहीं बनाउंगा जो कि आप अपने काम के वक्त करते हैं, क्योंकि मैं जानता हूं कि इंसान से गलती हो सकती है!”

बुमराह के इस ट्ववीट के बाद अब जयपुर ट्रैफिक पुलिस ने बुमराह से माफी मांगी है! जयपुर ट्रैफिक पुलिस के ट्विटर हैंडल से सफाई पेश करते हुए लिखा गया कि, “प्रिय जसप्रीत हम आपका दिल नहीं दुखाना चाहते थे! हम तो बस ट्रैफिक के बारे में लोगों को सतर्क करना चाहते थे!” ट्रैफिक पुलिस की तरफ से बुमराह को युवाओं का आदर्श भी बताया गया!

अगले पेज पर देखिये जसप्रीत बुमराह ने एक और ट्वीट किया और जयपुर ट्रैफिक पुलिस को नशीहत दी…

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

VIDEO : फूट-फूट का रो पड़े RJD नेता, कहा लालू के बेटे ने दी गन्दी गालियाँ और की पिटाई, देंखे वीडियो !

0

बिहार की राजनीति से तो सभी वाकिफ हैं । और बात अगर बिहार की हो और लालू प्रसाद यादव का नाम ना आये तो बात ही नही बनती। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और उनके बेटों को कौन नही जानता। ये हर वक़्त अपनी घटिया हरकतों की वजह से चर्चा में बने रहते है। राजनीति तो सिर्फ दिखावा है असल में तो अपना दबदबा बनाये रखने के लिए गुंडाराज चलाना होता है। लालू यादव के बड़े बेटे व बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव हमेशा विवादों में रहते हैं। इस बार वे पार्टी के ही एक पुराने नेता की पिटाई को लेकर सुर्खियों में हैं।

दरअसल, लालू यादव के आवास पर शुक्रवार को इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया है। जिसमे लालू पार्टी के बड़े बड़े नेता मौजूद थे। पार्टी आदेश पर ही संनोज इस पार्टी को सँभालने के लिए जिम्मेदारी लिए हुवे थे। उस समारोह में शामिल होने के लिए पार्टी नेता सनोज यादव पहुंचे थे। सनोज राजद कार्यसमिति के सदस्य भी हैं और लंबे अर्से से पार्टी में बने हुए हैं। आवास पर पहुंचते ही किसी बात को लेकर तेजप्रताप तमतमा गए हैं। इसके बाद सनोज की पिटाई कर दी।

सनोज ने आरोप लगाया है कि मंत्री तेजप्रताप ने न सिर्फ मेरी पिटाई की बल्कि मुझे गाली भी दिया। सनोज ने कहा कि मैं प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे द्वारा दी गई जिम्मेवारियों का निर्वहन कर रहा था। पार्टी के बूरे दिनों में भी मैं साथ रहा। लेकिन मुझे आरएसएस का एजेंट कहकर जलील किया गया। आरजेडी सनोज मीडिया से बात करते हुए रो पड़े। उन्होंने कहा कि मैं अब इस पार्टी में नहीं रहूंगा। पार्टी के सारे पदों से इस्तीफा देता हूं।

देखें वीडियो !

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

VIDEO : J&k DSP मर्डर केस : महबूबा की वार्निंग “पुलिस के सब्र का इम्तिहान ना लें वरना कहीं पुराना वक़्त ना लोट आये !

0

बता दें श्रीनगर के मुख्य इलाके में आज तड़के एक मस्जिद के नजदीक आक्रोशित भीड़ ने एक डीप्टी एसपी की उस समय निर्वस्त्र कर पत्थर मार-मारकर हत्या कर दी जब उन्होंने कथित तौर पर एक समूह पर गोलियां चलाना शुरू कर दी थीं. उस ग्रुप ने उन्हें वहां तस्वीरें लेता पकड़ लिया था, जिसके बाद यह घटना घटी. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस अधिकारी की पहचान मोहम्मद अय्यूब पंडित के रूप में हुई है जो उस समय ड्यूटी पर तैनात थे जब आक्रोशित भीड़ ने उनपर हमला किया.

इससे पहले पुलिस सूत्रों ने कहा था कि नौहट्टा में रात करीब साढ़े बारह बजे कुछ लोगों ने जामा मस्जिद के नजदीक अय्यूब को गुजरते देखा था. वह मस्जिद से बाहर आ रहे लोगों की कथित तौर पर तस्वीरें ले रहे थे. उन्होंने बताया कि लोगों ने जब पंडित को पकड़ने की कोशिश की तो उन्होंने अपनी पिस्तौल से कथित तौर पर गोलियां चलानी शुरू कर दी, जिससे तीन लोग घायल हो गए. सूत्रों ने बताया कि गुस्साई भीड़ ने पत्थर मार-मारकर हत्या करने से पहले उन्हें निर्वस्त्र कर दिया था.

महबूबा ने कहा कहीं पुराना वक्त न लौट आए
महबूबा ने कहा कि इससे शर्मनाक और कुछ नहीं हो सकता है कि जो शख्स लोगों की सुरक्षा के लिए काम कर रहा हो उसे मार डाला जाए. उन्होंने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर की पुलिस देश के सबसे अच्छी पुलिस में से एक हैं. ये जनता के साथ डील करते हुए बहुत सब्र बरतते हैं लेकिन कब तक अगर एक बार इनका सब्र जबाव दे गया तो फिर क्या होगा. अगर पुलिस का सब्र जवाब देगा तो फिर शायद पुराना वक्त वापस न आ जाए जब रोड पर जिप्सी देखकर लोगों को भागना पड़ता था.

Video

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

रामनाथ कोविंद जी ने तोड़ी चुप्पी : दलित नाम की राजनीति करने वालों को कहा ऐसा की उनके सर शर्म से झुक जाएंगे।

0

रामनाथ गोविंद को एनडीए का राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया गया है. उनके नाम की घोषणा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को की. कोविंद फिलहाल बिहार के राज्यपाल हैं. अमित शाह ने यह प्रेस कॉन्फ्रेंस दिल्ली में बीजपी की पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद की. रामनाथ कोविंद दलित समाज से आते हैं. वे मूल रूप से कानपुर, उत्तर प्रदेश से हैं. वो पिछले तीन साल से बिहार के राज्यपाल के तौर पर काम कर रहे हैं.

कोविन्द ने औपचारिक रूप से आज संसद में अपना नामांकन दायर किया। उनके साथ भाजपा के वरिष्ठ नेताओं सहित प्रधान मंत्री मोदी शामिल थे। इसके अलावा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कैबिनेट मंत्री वेंकैया नायडू और वरिष्ठ नेता एल.के. आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी उपस्थित थे।

रामनाथ कोविंद ने हमेशा छोटी प्रोफ़ाइल बनाए रखी है और उन्होंने शीर्ष पर अपना रास्ता तय किया है। लेकिन आज उन्होंने अपना नामांकन दायर करने के बाद मीडिया से बात की और यही यही कहना था। कोविंद ने आज मीडिया से बात करते हुवे अपनी बात रखी इर तमाम विरोधियो के मुँह पर जोरदार तमाचा मारा है।\

कोविंद के पद और विपक्षी दल के चुनाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह को “अज्ञात” कोविंद को नामांकित करके सुरक्षित खेलने का प्रयास करने के लिए बहुत चर्चा हुई है। कोविंद बिहार के राज्यपाल हैं और उन्होंने पहले भी सुप्रीम कोर्ट में एक वकील के रूप में सेवा की थी।हालांकि कोविंद ने विपक्ष के किसी भी आरोप पर सीधे तौर पर संबोधित नहीं किया था, उन्होंने अपनी ‘जाति’ पर टिप्पणी की थी। कोविंद ने अपने नामांकन के बारे में कहा था जो बात कोविंद ने कही वो विपक्ष को मुहतोड़ जवाब के लिए काफी है।, जो सवाल उठा रहे हैं व9 अब शायद चुप्पी साध लेंगे।

देखें क्या कहा राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद जी ने !

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

शर्मनाक : जितनी कीमत में केजरीवाल खरीद रहे हैं 1 CCTV कैमरा, उतने में खरीद सकते हैं एक कार, पढ़े पूरी खबर !

0

केजरीवाल सरकार के एक और घोटाले का पर्दाफाश हुआ है, अबकी बार ऐसा सबूत मिला है कि केजरीवाल को इमानदार नेता समझने वालों का दिमाग चकरा जाएगा, केजरीवाल मुख्यमंत्री बनने से पहले सिर्फ 2000 रुपये में एक CCTV कैमरा खरीदने का दावा करते थे लेकिन आज 1 CCTV कैमरा 2.20 लाख रुपये में खरीद रहे हैं, मतलब 1000 गुना से भी मंहगा. इतने रुपये में आप एक अल्टो कार खरीद सकते हैं, जी हाँ, 2000 रुपये वाला CCTV कैमरा 2.20 लाख रुपये में खरीद रहे हैं केजरीवाल, इतने रुपये में आ जाएगी एक कार.

कल केजरीवाल सरकार की कैबिनेट ने एक बिल पास किया जिसमें 6350 DTDC बसों में CCTV कैमरे लगाए जायेंगे, जिसके लिए केजरीवाल 140 करोड़ रुपये खर्च करेंगे, अगर 140 करोड़ रुपये को 6350 बसों से Divide किया जाय तो एक बस के लिए 2.20 लाख रुपये का खर्च आ रहा है. अगर केजरीवाल हर बस में 2 CCTV कैमरे लगायेंगे और उनके हिसाब से एक कैमरे के लिए सिर्फ 2000 रुपये खर्च होंगे तो 12700 CCTV कैमरे के लिए सिर्फ 2 करोड़ 54 लाख रुपये खर्च होंगे लेकिन केजरीवाल तो 140 करोड़ रुपये खर्च कर रहे हैं.

चलो मान लो, केजरीवाल को बहुत बढ़िया क्वालिटी वाला CCTV कैमरा खरीदना है, एक कैमरा 15 हजार रुपये में मिल रहा है और 5000 रुपये Installation में खर्च हो रहे हैं, मान लो एक बस में दो कैमरा लगाना है और एक बस पर 40 हजार रूपये का खर्च आ रहा है. इस कैलकुलेशन से भी 6350 बसों में CCTV लगाने के लिए सिर्फ 25 करोड़ रुपये के आसपास खर्च हो रहे हैं लेकिन केजरीवाल तो 140 करोड़ रुपये खर्च कर रहे हैं, जी हाँ, 115 करोड़ रुपये अधिक.

केजरीवाल को बताना चाहिए ये 115 करोड़ रुपये कहाँ और किसकी जेब में जायेंगे, कहीं 115 करोड़ रुपये वे खुद तो नहीं खा जाएंगे, अगर ऐसा है तो केजरीवाल दिल्ली की जनता को खुलेआम लूट रहे हैं.

देखिये ये VIDEO.

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

ठुकाई No-5: भारत की हार पर “I Love Pakistan आज मै बहुत खुश हूँ” लिखने वाले को देशभक्तो ने जमकर कुटा!

0

पाकिस्तान को भारत से अलग हुए लगभग 70 साल हो गए लेकिन भारत में रहने वाले मुस्लिमो का पकिस्तान के प्रति लगाव देखकर आप कह सकते है की इन्हे हिंदुस्तान में नहीं बल्कि पाकिस्तान में होना चाहिए था! ये एहसान फरामोश लोग है जिन्हे भारत सरकार द्वारा दी जा रही हर सुबिधा चाहिए, सब्सिडी चाहिए, आरक्षण चाहिए और इतना सब लेने के बाद भी गुणगान पाकिस्तान का करेंगे!

भारत-पाकिस्तान के बिच चैंपियंस टॉफी फाइनल मैच के बाद देश के कई जगह पर मुस्लिम समुदाय के लोगों को पाक प्रेम दिखते हुए पाया गया, और उन्होंने इस मौके का फायदा भी उठाया और पाकिस्तान के पक्ष में नारे भी लागए! लेकिन अब भारत का हिन्दू जाग उठा है और अब ऐसे लोगो की पहचान करके उनकी ठुकाई भी कर रहा है! एक ऐसे ही मामले का विडियो हम आपको दिखा रहे हैं जो रहता भारत में है लेकिन गुणगान पाकिस्तान के गए रहा था, उसकी धुलाई भी अच्छे से हुई!

भारत की हार के बाद अर्पण रॉय नाम के इस लड़के ने फेसबुक पर पोस्ट किया की “I Love Pakistan आज मै बहुत खुश हूँ भारत हार गया” और पाकिस्तानी झंडे के साथ ४ फोटो भी शेयर किये! फिर क्या कुछ राष्ट्रवादियों हिन्दुओं ने इसे ढूंढ निकाला और पहले तो जमकर कुटाई की फिर उसके बाद भारत भूमि को चूमने के लिए कहा!

आगे आप वीडियो देखिये और क्या किया

via: Cyber Sipahi

हैरानी तो इस बात से हो रही है की जरा-जरा सी बात पर गौरक्षको पर ऊँगली उठाने और खबर को सुर्खिया बनाने वाली मीडिया इन देशद्रोहियो की खबर क्यों नहीं दिखाती लेकिन जब इनकी जमकर कुटाई होती है तो मीडिया के सिकुलर पत्रकार आ जाते है और इन्हे माशूम और असहाय दिखाकर TRP लूटने की खूब कोशिश करते है! अब समय आ गया है की हर देशवासी को देश के प्रति जागना होगा!

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

खुलासा: समझौता एक्स. ब्लास्ट, भगवा आतंक की आड़ में कांग्रेस ने पाकिस्तानी आरोपी को बचाया!

0

नई दिल्ली: कांग्रेसी सरकारे हमेशा से एक खास वर्ग को खुश रखने और मुस्लिम वोटबैंक के लिए हिंदुओं के साथ अन्याय करती रही हैं। ऐसे ही एक सच्चाई का खुलासा हुआ हैं, जिसमें एक खास वर्ग को खुश कर मुस्लिम वोटबैंक की गंदी राजनीति करने की कोशिश की, जिसकी अब पोल खुल रही हैं।

मीडिया चैनल Times Now ने यूपीए सरकार पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाया है। Times now ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि 2007 में हुए समझौता एक्सप्रेस धमाके के संदिग्ध आरोपी जो कि पाकिस्तानी नागरिक थे, उन्हें एक साजिश के तहत छोड़ दिया गया और उनके स्थान पर निर्दोष हिन्दुओं को गिरफ्तार किया गया।

समझौता एक्सप्रेस धमाके की जांच कर रही एनआईए की टीम ने एक व्यक्ति से जबरन झूठा बयान दिलाया और उसी गवाह के आधार पर कांग्रेस और यूपीए सरकार ने भगवा आतंकवाद का झूठा किस्सा गढ़ना शुरू कर दिया। 2008 में महाराष्ट्र के मालेगांव में विस्फोट हुआ तो वहां भी भगवा आतंक का झूठा जाल बिछाया गया। लेकिन कांग्रेस द्वारा रची गई भगवा आतंकवाद की साजिश का पर्दाफाश होने लगा है।

इस घटना के मुख्य गवाह यशपाल भड़ाना ने मजिस्ट्रेट के सामने कहा कि उससे एनआईए के दबाव आकर बयान दिया था ताकि स्वामी असीमानंद और अन्य दूसरे लोगों को फंसाया जा सके। भड़ाना के नए हलफनामे से यूपीए सरकार में गृह मंत्री रहे पी. चिदंबरम पर सवाल उठ रहे हैं।

अगले पेज पर पढ़े पूरी खबर और देखे रजत शर्मा का वीडियो रिपोर्ट, कैसे कांग्रेस ने भगवा हिन्दुओं को फसाया…

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

कांग्रेस प्रवक्ता को पत्रकार मानक गुप्ता की फटकार, कहा- आपकी उम्र का लिहाज कर रहा हु, इज्जत से बात कीजिये!

0

नई दिल्ली: कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी होने के साथ साथ भारत की गद्दी पर आज़ादी के बाद से ६० सालो तक राज किया है! अगर कांग्रेस ईमानदारी से शाशन चलती तो सोने का चिड़िया कहे जाने वाला देश आज गरीबी और बेरोजगारी का मार नहीं झेल रहा होता! कांग्रेस में मुख्य रूप से नेहरू-गांधी परिवार का दबदबा रहा है और सुरु से लेकर अब तक कांग्रेस ने सिर्फ और सिर्फ देश को लूटने का काम किया है !

लेकिन अब इन लोगों का असली चेहरा सबके सामने आगया है। इनकी असलियत से अब सब वाकिफ हो चुके हैं। कांग्रेस लगभग हर हर राज्य से समाप्त होने की कगार पर है। असल में कांग्रेस ने कभी देश की विकासनीती पर काम ही नही किया। हर कोई अपना रुतबा दिखाने में मशगूल रहा । कांग्रेस के प्रवक्ता भी ऐसे ऐसे है जिन्हें बात करने की तक तमीज नही है कि आखिर बात कि कैसे जाती है।

अभी हाल में news24 चैनल पर राम मंदिर को लेकर लाइव डिबेट चल रही है। जिस में की 4 मेहमान मौजूद थे। इन्ही मेहमानों में कांग्रेस के प्रवक्ता अखिलेश सिंह भी मौजूद थी लेकिन किसी बात को लेकर भूल गए कि वो लाइव स्टूडियो बैठे हैं और खुलेआम ऊँची आवाज़ में बोलने लगे। बातों के लहज़े से लग रहा था मानो वो सामने वाले को डरना चाहते हैं।अखिलेश सिंह ने पत्रकार मानक गुप्ता से अभद्र तरीके से बात की। मानक गुप्ता ने भी साफ़ शब्दो में कहा कि उम्र का लिहाज कर रहा हूँ। लेकिन फिर भी अखिलेश सिंह चिल्लाते रहे।

कांग्रेस के प्रवक्ता ने साबित कर दिया कि इन्हें किसी से बात करने के तमीज तक नही हैं। अगर आप इस वीडियो को देखेंगे तो आपका खून भी खोलने लगेगा कि क्या ये लोग वाकई में नेता बनने लायक हैं। जिन्हें खुलेआम गुंडागर्दी दिखाने में तक कोई भय नही।

देखें वीडियो।

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

अरनब के Republic पर भड़के प्रशांत भूषण, बोले- मीडिया के भेष में छिपा आतंकवादी और सरकारी कुत्ता है ये!

0

नई दिल्ली: देश के जाने-माने वकील प्रशांत भूषण जो हमेशा से खुद आतंकियों के हिमायती रहे है, उन्होंने अरनब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक पर करारा हमला बोलै है! प्रशांत भूषण ने ट्वीट कर कहा कि अर्नब गोस्वामी का रिपब्लिक चैनल मीडिया के भेष में छुपा आतंकवादी है, और सर्कार का पालतू कुत्ता बताया है! प्रशांत भूषण पहले आम आदमी पार्टी से जुड़े हुए थे लेकिन केजरीवाल द्वारा पार्टी से निकाले जाने के बाद उन्होंने योगेंद्र यादव के साथ मिलकर स्वराज इंडिया की स्थापना की और स्वराज इंडिया के लिए काम कर रहे है!

प्रशांत भूषण का ये बयान मशहूर एंटी न्यूकलियर एक्टिविस्ट डॉ. एस पी उदयकुमार के प्रेस काउंसिल से लिखित शिकायत दिए जाने के बाद आया है और इसे इस खबर के प्रतिक्रिया के तौर पर लिया जा रहा है! उदयकुमार ने प्रेस कौंसिल को दिए अपने शिकायत में कहा है कि रिपब्लिक टीवी न्यूज़ चैनल और उसके रिपोर्टर्स लगातार उनको और उनके परिवार को परेशान कर रहे हैं! इसकी शिकायत उदय कुमार ने 21 जने को की थी! इस शिकायत के ठीक एक दिन बाद प्रशांत भूषण ने ट्वीट करते हुए रिपब्लिक को निशाने पर लिया है!

प्रशांत भूषण ने एस. पी. उदयकुमार द्वारा प्रेस काउंसिल से रिपब्लिक की शिकायत की खबर का लिंक शेयर करते हुए ट्वीट किया- गोस्वामी का रिपब्लिक मीडिया के भेष में छुपा हुआ आतंकवादी है! प्रशांत भूषण ने अरनब को छद्म राष्ट्रवादी और सरकार का पालतू कुत्ता तक कह दिया!

देखें प्रशांत भूषण का ट्वीट

अगले पेज पर देखें कैसे नक्सली प्रशांत भूषण को यूजर्स ने बताई उसकी औकात…

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

VIDEO : केजरीवाल और आप नेताओं को छोड़कर तमाम दिल्ली को शर्मिंदा कर दने वाला ये वीडियो।

0

दिल्‍ली में पिछले दो-तीन दिनों से मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है। कभी रात में तो कभी सुबह बारिश हो रही है। बुधवार को भी दिल्‍ली में झमाझम बारिश हुई। लेकिन, इस बारिश ने एक बार फिर दिल्‍ली में सरकारी कामकाज की पोल खोलकर रख दी है। कुछ देर की बारिश में ही दिल्‍ली की सड़कें तालाब बन गईं। कई जगहों पर ट्रैफिक जाम हो गया। ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को जाम खुलवाने के लिए काफी मशक्‍कत करनी पड़ी। इसी बीच केजरीवाल सरकार की पोल खोलने वाली कई तस्‍वीरें और कई वीडियो भी सामने आ गया। ऐसा ही एक वीडियो सामने आया नई दिल्‍ली के इलाके से। जहां दिल्‍ली हाईकोर्ट की ओर जाने वाले रास्‍ते पर भारी पानी जमा हो गया था। लोगों को यहां से निकलने में काफी परेशानी हो रही थी।

इसी बीच उस इलाके में मौजूद ट्रैफिक पुलिस के एक कांस्‍टेबल ने बहुत ही सराहनीय काम किया। इस इलाके में लग रहे को जाम खुलवाने के लिए इस सड़क से पानी का हटना बहुत जरुरी था। ऐसे में दिल्‍ली पुलिस के ट्रैफिक कांस्‍टेबल ने खुद ही अपने हाथ में एक लाठी उठा ली और नाले को साफ करने लगा। ताकि सड़क पर जमा पानी वहां से निकल जाए और ट्रैफिक स्‍मूथ हो जाए। ये वीडियो सोशल मीडिया में काफी तेजी के साथ वायरल हो रहा है। इसके साथ ही लोग केजरीवाल को भी कठघरे में खड़ा कर रहे हैं। दरअसल, ये पूरा का पूरा इलाका NDMC के अधीन आता है। यहां पर सफाई व्‍यवस्‍था और नालों की सफाई का जिम्‍मा NDMC के ही कंधों पर है। दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल NDMC के चेयरमैन हैं।

ऐसे में वो अपनी इस नाकामी का ठीकरा बीजेपी या फिर किसी दूसरी एमसीडी पर भी नहीं फोड़ सकते हैं। दरसअल, बरसात में दिल्‍ली की सड़कों पर पानी जमा होना कोई नई बात नहीं है। NDMC, MCD और ट्रैफिक पुलिस को पता है किन-किन जगहों पर वॉटर लॉगिंग होती है। बावजूद इसके नालों की सफाई पर सालाना करोड़ों रुपए फूंके जाते हैं लेकिन, दिल्‍ली की जनता को वॉटर लॉगिंग से निजात नहीं मिल पाती। ऐसे में अगर दिल्‍ली में जरा सी भी बारिश हो जाए तो पता नहीं दिल्‍लीवालों के कितने घंटे बरबाद हो जाते हैं। घंटों उन्‍हें दिल्‍ली के जाम से जूझना पड़ता है। ऐसे में लोग अब दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल से सवाल कर रहे हैं कि “बताइए सर जी कि क्‍या इस तस्‍वीर के लिए भी बीजेपी जिम्‍मेदार है।”

लोगों ने सोशल मीडिया पर केजरीवाल से सवाल किया है कि चलिए मान लेते हैं कि बीजेपी आपको काम नहीं करने देती लेकिन, क्‍या NDMC इलाके में नाले की सफाई से भी बीजेपी ने कर्मचारियों को रोका हुआ है। सोशल मीडिया पर इस वक्‍त दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्‍लीवालों के गुस्‍से के शिकार बन रहे हैं। सुशांत राजपूत नाम के शख्‍स ने ट्विटर पर लिखा है कि “सर जी, आपको जितना नाटक करना था कर लिया अब थोड़ा दिल्‍ली के लिए काम भी कर लीजिए। ऐसे काम जो यहां की जनता को दिखाई दें।” दरसअल, जब‍ भी दिल्‍ली में किसी समस्‍या को लेकर बात होती है कि यहां की राजनैतिक दल अपनी जिम्‍मेदारियों से पल्‍ला झाड़ते हुए इसका ठीकरा एक दूसरे के सिर पर फोड़ते नजर आते हैं।

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+

कुमार विश्वास ने NDA के राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर दिया विवादित बयान, लोगों ने दिया मुँहतोड़ जवाब !

0

इस समय देश में राष्ट्रपति निर्वाचन की प्रक्रिया चल रही है। प्रणव मुखर्जी कार्यकाल समाप्त हो रहा है ऐसे में देश के नए राष्ट्रपति चुनने के लिए गहमागहमी हो रही है। ये समय बस इस चर्चाओं में खिंचा चला जारहा है कि कौन देश का अगला राष्ट्रपति होगा और कौन कौन इस पद के लिए आवेदन करेंगे। राष्ट्रपति पद के चुनाव जल्द ही होने वाले है जिसके लिए 23 जून तक अंतिम नामांकन भरा जायेगे.

सभी पार्टियां राष्ट्रपति पद के लिए अपना-अपना उम्मीदवार चुनने में लगी हुई है जिसके चलते चुनाव की चर्चाए बहुत अधिक बढ़ गई है. अब जनता यही देखना चाहती है कि आने वाला राष्ट्रपति कौन होगा. मिली जानकारी के अनुसार बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार होंगे और इसके बारे में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राष्ट्रपति पद का एलान किया.

विपक्षी नेता तो तो ऐसा कोई मौका नही गंवाना चाहते की बीजेपी पर कैसे आरोप लगाए जाएं। अभी तक विपक्षी कह रहे थे कि बीजेपी तो दलित विरोधी पार्टी है । लेकिन जब बीजेपी में राष्ट्रपति के लिए दलित उम्मीदवार घोषित किया तो कहने लगे बीजेपी ये सब राजननीति के लिए कर रही ही। कहने का मतलब यह है की चाहे जो हो जाए बीजेपी पर ऊँगली उठाना इनकी आदत बन चुकी है।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास ने भाजपा पर अपना निशाना साधते हुए कहा है कि ” रामनाथ कोविंद एक दलित नेता है” इसी बात के चलते कुमार विश्वास ने एक ट्वीट भी किया है जिसे आप नीचें पढ़ सकते है.

देखें कुमार विश्वास का ट्वीट

अगले पेज पर देखें कैसे लोगों ने कुमार विश्वास को दिया मुहतोड़ जवाब।

Share with Friends
FacebookTwitterGoogle+