बिहार NDA में बगावत: तवज्जो न मिलने से खफा इस पार्टी को तेजस्वी ने दिया बातचीत का ऑफर!

Patna: Bihar Deputy CM Tejashwi Yadav talking to media at the old secretariat before the cabinet meeting in Patna on Wednesday. PTI Photo(PTI7_12_2017_000020B)

केन्द्र सरकार में साझीदार राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने NDA में बगावत का झंडा बुलंद कर दिया है। पार्टी ने बीजेपी के रुख से इतर नीतीश कुमार को नेता मानने से इंकार कर दिया है। गुरुवार (7 जून) को पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि ने कहा कि बिहार का अगला चुनाव आरएलएसपी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा के नेतृत्व में लड़ा जाए। नागमणि ने पार्टी की ओर से नीतीश कुमार को बिहार का चेहरा मानने से इंकार कर दिया है। जदयू की तरफ से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बिहार में राजग का ‘‘चेहरा’’ बताने पर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) ने असहमति जताई है।

Loading...

नागमणि ने कहा कि बिहार विधानसभा का चुनाव कुशवाहा के नेतृत्व में ही लड़ा जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा इसलिए कि वह यादवों के बाद ओबीसी के बीच सबसे बड़े समुदाय के नेता हैं। कुशवाहा की आबादी राज्य की कुल आबादी का 10 प्रतिशत है।’’ नागमणि ने कहा, “यदि एनडीए को लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल करनी है तो आरएलएसपी चीफ उपेन्द्र कुशवाहा को सीएम पद का उम्मीदवार बनाया जाना चाहिए, हमलोग नीतीश कुमार के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन आज के माहौल में एनडीए नीतीश के चेहरे के साथ नहीं जीत सकती है।”

नागमणि ने आगे कहा, “हमलोग जेडीयू से बड़ी पार्टी हैं, लोकसभा में हमारी तीन सीटें हैं, जबकि जेडीयू की दो सीटें, हमलोग नीतीश कुमार को अपना नेता नहीं स्वीकार कर सकते हैं, वो फिर से यू टर्न ले सकते हैं और लालू जी के पास जा सकते हैं, विश्वास नहीं कर सकते हैं।”

Loading...

रालोसपा के NDA से अलग होने की अफवाहों को और बल तब मिला जब पटना में NDA द्वारा आयोजित भोज में पारी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा शामिल नहीं हुए! इन अफवाहों के ऊपर उपेंद्र कुशवाहा को सार्वजनिक तौर पर बयान देना पड़ा! उन्होंने एनडीए से नाता तोड़ने की खबरों का खंडन किया है। रालोसपा प्रमुख ने कहा कि फ्लाइट छूटने के कारण वह भोज में शामिल नहीं हो सके थे, ऐसे में इसे इतना बड़ा मामला क्यों बनाया जा रहा है!

एनडीए के घटक दलों के भोज से राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा के अलग रहने से जहा एक तरफ NDA से अलग होने की अटकलों का बाजार गर्म है, तो वही दूसरी तरफ इस पर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव के बयान ने इसे और हवा दे दी है! उन्होंने कहा, ‘उपेंद्र कुशवाहा के लिए एनडीए में कोई स्थान नहीं है! यदि वह हमलोगों से बात करना चाहते हैं तो हमें इससे कोई दिक्कत नहीं है।’ रालोसपा प्रमुख केंद्र में मंत्री भी हैं!

loading...