Video: क्या हुआ जब एक बच्चे ने गणपति के प्रसाद के लिए मुस्लिमों से मांगे पैसे…?

आये दिन राजनीतिक गलियारों से धर्म विरोधी बातें उठती है और लोग तैयार हो जगतें हैं, एक-दूसरे को अपशब्द बोलने के लिए, मारने के लिए और कभी-कभी यही द्वेष सामुदायिक दंगों का रूप ले लेता है। प्रधानमंत्री जी ने लोकसभा के बाद के अपने भाषणों में कहा कि, एक हिन्दू की जंग मुसलमान से है या गरीबी से?, एक मुसलमान की जंग हिन्दू से है या गरीबी से? जवाब साफ़ है, खाली पेट न सजदा हो सकता है न पूजा। जीवन के लिए भोजन जरुरी है और भोजन के लिए काम।

कुछ ऐसे भी हैं, जो इससे ऊपर मानवता की बात करतें हैं।
प्रधानमंत्री जी की बातों का देश की जनता पर काफी असर हुआ और गंगा-जमुनी तहजीब को और तरजीह मिली। लेकिन आज भी कई प्रदेश और कई नेता इस आग में लोगों को जला रहें हैं, लेकिन कुछ ऐसे भी हैं, जो इससे ऊपर मानवता की बात करतें हैं।

एक बार आप अपने ज़मीर से पूछिए क्या आपको एक शांत और सुखी जीवन की चाह नहीं है, क्या आपस में मिल-जुल के नहीं रह सकतें? बेशक रह सकतें हैं, लेकिन ये सत्ता के भूखे लोगों को आपका सुकून रास नहीं आता। इन्हें तो दंगों की आग में अपने घर की रोटियां सेंकनी है और औरों को कुचल के खुद को आगे बढ़ाना है।

आखिर कबतक ये नेता अपनी सियासतों से हमारा नसीब तय करेंगे? इस वीडियो में एक हिन्दू बच्चा Ganesh Puja के लिए मुस्लिम इलाकों में घूम रहा है और लोगों से पैसे मांग रहा है। कई ने उसे भगा दिया, कइयों ने उससे बहस की की पैसा का क्या करोगे, लेकिन बच्चे तो मासूम होते ही हैं, आख़िरकार सबने अपने हालात के हिसाब से कुछ न कुछ बच्चे को दिया। और इसके साथ उसे हिदायत भी दी कि पैसे का प्रसाद ही ख़रीदना और सीधे घर जाना।

वीडियो में देखे और आप खुद को भावुक होने से रोक नहीं पायेंगे!

1 Trackback / Pingback

  1. Exposed! दलितों की मदद के नाम पर राहुल गाँधी ये कर रहे है, शर्म आनी चाहिए! - Logical Bharat

Comments are closed.