Live बहस के दौरान महिला को थप्पड़ जड़ने वाले मौलाना को लेकर कोर्ट ने दिया ये आदेश….

कल ज़ी हिंदुस्तान के शो ‘बताना तो पड़ेगा’ में लाइव बहस के दौरान ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना एजाज अरशद कासमी ने सुप्रीम कोर्ट की महिला वकील फराह फैज से मारपीट की. मौलाना कासमी की इस हरकत से पूरा देश गुस्से में है. हर तरफ मौलाना के इस हरकत की आलोचना हो रही है.

Loading...

बदमिजाज और बदतमीज मौलाना काजमी के खिलाफ वाराणसी का अधिवक्ता परिषद सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया और मौलाना का पुतला फूंका. वाराणसी के कचहरी में बड़ी संख्या में अधिवक्ता एकजुटता दिखाते हुए सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ अधिवक्ता फराह फैज के साथ मौलाना काजमी ने जो मारपीट और अभद्रता की उसको लेकर अधिवक्ताओं में गुस्सा है.

Loading...

ज़ी हिंदुस्तान के ‘शो बताना तो पड़ेगा’ में लाइव बहस के दौरान तीन तलाक की मुख्य याचिकाकर्ता और सुप्रीम कोर्ट की वकील फराह फैज के साथ मारपीट करने वाले मौलाना एजाज अरशद कासमी को सूरजपुर कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा दिया है. मौलाना कासमी के जमानत अर्जी पर कल होगी सुनवाई.

ज़ी हिन्दुस्तान ने मुस्लिम समाज की उस कट्टरपंथी सोच पर सवाल उठाया था कि क्या तीन तलाक के खिलाफ आवाज़ उठाने वाली मुस्लिम महिला पर फतवा जारी होना चाहिए? सदियों से जिन महिलाओं पर जुल्म किया जाता रहा है, क्या उन्हें जुल्म से आज़ादी नहीं मिलनी चाहिए? बरेली की निदा खान पर मौलाना के फतवे को लेकर सात बजे के हमारे शो ‘बताना तो पड़ेगा’ में मौलाना एजाज कासमी ने बुजुर्ग महिला मेहमान के साथ बदसलूकी करते हुए उनके उपर हाथ उठाया. शो के शुरुआत में ही मौलाना मुफ्ती एजाज अरशद कासमी ने अंबर जैदी से भी बदसलूकी की थी.

INPUT SOURCE – ZEE MEDIA

loading...