कड़ाके की सर्दी में आधी रात को सड़क पर निकले योगी, शायद ही किसी प्रदेश का CM ऐसा करे..

लखनऊ: CM योगी आदित्यनाथ यूपी में बिल्कुल रॉबिनहुड की तरह काम कर रहे हैं। वो फैसले लेने में रात दिन नहीं देख रहे हैं।
काफी समय बाद प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी, लोगों ने उम्मीद लगाई कि योगी के हाथों में कमान जाए तो सुशासन लौट आएगा। CM योगी अब लोगों की उम्मीदों पर खरा भी उतर रहे हैं। ताजा मामला बनारस का है जब योगी ने आधीरात को सड़कों पर सो रहे लोगों को जाकर रैन बसेरों में शिफ्ट कराया।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आधी रात को तूफानी दौरा कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में विकास कार्यों की हकीकत देखी। सात डिग्री सेल्सियस के तापमान में केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं के तहत चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण कर सीएम ने अधिकारियों को संदेश देने की कोशिश की कि विकास कार्यों में ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

सीएम दिन में 3:45 बजे आजमगढ़ से सीधे पुलिस लाइन पहुंचे। यहां से सर्किट हाउस पहुंचकर भाजपा नेताओं और आला अधिकारियों से मुलाकात की। इसके बाद सीएम कनाडा के संसदीय दल से बातचीत की। रात नौ बजे वह सर्किट हाउस से दीनापुर एसटीपी का निरीक्षण करने निकले।

सीएम योगी ने कहा ‘कोई दिक्कत तो नहीं’

वहां से अलईपुर शेल्टर होम में रहने वाले लोगों को मिलने वाली सुविधाओं का जायजा लिया। जहां एक तरफ आला अधिकारियों में बेचैनी देखी जा रही थी तो वहीं दूसरी तरफ रैन बसेरे में मौजूद हर एक शख्स सिर्फ यही कह रहा था ’देखो-देखो, मुख्यमंत्रीजी आए’, तो दूसरी तरफ खुद उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री वहां पर मौजूद लोगों से पूछ रहे थे, ’अरे भाई कोई दिक्कत तो नहीं है’।

इसके बाद चौकाघाट फ्लाईओवर के विस्तारीकरण कार्य का निरीक्षण करते हुए कैंट स्टेशन के रास्ते भारतमाता मंदिर में चल रहे विकास कार्यों को देखा। इसके बाद सीएम ने मंडुवाडीह आरओबी के निर्माण कार्य की प्रगति देखी।