PM मोदी ने तेंदुलकर की सलाह की प्रशंसा की, बोले-15 अगस्त का इंतजार क्यों?

modi-sachin
.
सचिन तेंदुलकर वैसे तो कांग्रेस के कोटे से राज्यसभा सांसद बने थे लेकिन पुरे देश के साथ-साथ वो पम मोदी के भी लाडले है! अभी हाल ही में सचिन तेंदुलकर ने नरेन्द्र मोदी से कहा था की 15 अगस्त को रियो ओलंपिक में भाग लेने वाले भारत के सभी खिलाड़ियों के हौसला औफजायी के लिए आप सन्देश/संबोधित कर दीजियेगा, जिससे की उनका मनोबल दुगुना हो जाये!

लेकिन प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त का इन्तेजार न करते हुआ सचिन से कहा की इस नेक काम में देरी नहीं होनी चाहिए और इसके लिए 15 अगस्त का इंतज़ार क्यों करना! मोदी ने 13 अगस्त को ही ट्वीट करके खिलाड़ियों के हौसला अफजाई की! आपको बता दे की ये सभी खिलाडी अपनी पुरजोर कोशिश कर रहे है की भारत का नाम विश्व स्तर पर आये और देश को ओलिंपिक में एक नहीं पहचान मिले!

प्रधानमंत्री मोदी का खिलाड़ियों के नाम सन्देश, कहा कि रियो गए सभी खिलाड़ियों पर भारत को गर्व है!

पीएम ने ट्वीट किया, ‘भारत रियो गए अपने सभी खिलाड़ियों पर गर्व करता है! खिलाड़ी अपनी कड़ी मेहनत से वहां पहुंचे हैं। जय और पराजय यह सभी जीवन का हिस्सा हैं!

पीएम ने कहा कि खिलाड़ी अपने बचे हुए खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करें और दृढ़इच्छाशक्ति का परिचय दें! खिलाड़ी परिणाम सोचकर परेशान न हों!

इससे पहले पीएम ने कहा, ‘मैं सचिन तेंदुलकर की सोच की सराहना करता हूं। मैं यहां जोड़ना चाहता हूं कि इस विषय पर बोलने के लिए 15 अगस्त का इंतजार क्यों किया जाए! मैं यह काम अभी करना चाहता हूं!’

गौरतलब है कि तेंदुलकर ने आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से 70वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने संबोधन में कुछ ऐसे खिलाड़ियों का जिक्र करने का आग्रह किया जो रियो ओलंपिक के दौरान देश को सम्मान दिलाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं!