तारिक फतह ने बाबर के बारे में कह दी ऐसी बात, तिलमिला उठे उसके वंशज!

पाकिस्तान में जन्मे मशहूर लेखक और इस्लामिक विद्वान और खुद को भारतीय ही मानने वाले तारिक फतह ने राम जन्मभूमि मामले पर बड़ा बयान दिया है, और बाबर समेत तमाम कट्टरपंथियों पर हमला किया है!

तारिक फतह ने कहा की जो भी लोग अयोध्या में बाबरी मस्जिद का समर्थन कर रहे है, सबसे पहले तो वो लोग बताये की बाबर जो की एक विदेशी हमलावर था, विदेशी आतंकवादी था, उसे अयोध्या में मस्जिद बनाने की इज़ाज़त किसने दी थी!

तारिक फतह ने कहा की, मस्जिद को बनाने के लिए बाबर को मंदिर तोड़ने की इज़ाज़त किसने दी थी, और अगर बाबर ने मंदिर नहीं तोडा तो उस विदेशी आतंकी को भारतीय जमीन किसने दी थी की वो उसपर मस्जिद बना सके, क्या उसने मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में जमीन खरीदी थी, और जमीन खरीदी थी तो किस शख्स ने उस आतंकी को अयोध्या में जमीन बेचीं थी!

तारिक फतह ने बाबरी मस्जिद को मस्जिद मानने से ही इंकार करते हुए कहा की वो मस्जिद थी ही नहीं, आपकी जानकारी के लिए बता दें की बाबर एक विदेशी हमलावर था, विदेशी आतंकवादी था, जिसने भारत पर हमला किया था, हिन्दू आपस में बहुत अधिक बिखरे हुए थे, इसी कारण बाबर नामक आतंकी अयोध्या पहुँचने में कामयाब रहा और उसने वहां भव्य राम मंदिर को तुड़वा दिया!

राम मंदिर तुड़वा कर बाबर ने वहां पर इस्लामिक मस्जिद बनवा दी जिसे बाबरी मस्जिद भी कहा जाता था, अयोध्या में 1992 में इस कलंक को रामभक्तों ने मिटा दिया, और अभी रामजन्म भूमि का केस भारतीय सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है!