“द क्विंट” समाचार वेबसाइट ने कुलभूषण जाधव को बताया “रॉ” का एजेंट, लोगो ने जमकर लताड़ा तो डिलीट की खबर

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को भारत की ही एक समाचार वेबसाइट ने “रॉ” एजेंट बताकर सनसनी फैला दी है! रिपोर्ट के अनुसार जैसे ही उस ख़बर पर भारत के उच्च अधिकारियों की निगाह पड़ी वैसे ही तुरंत उस ख़बर को संबंधित वेबसाइट के पेज से डिलीट कर दिया गया!

अख़बार के संपादक चंदन पांडे ने “द क्विंट” नामक समाचार वेबसाइट के सह-संपादक और वरिष्ठ पत्रकार चंदन नन्दे द्वारा लिखे गए लेख में कहा था कि रॉ के दो पूर्व अधिकारी कुलभूषण चाधव के पाकिस्तान में काम करने के विरोधी थे! दोनों पूर्व अधिकारियों की नज़र में कुलभूषण जाधव में पाकिस्तान में काम करने की क्षमता नहीं थी!

“द क्विंट” समाचार वेबसाइट के अनुसार, कुलभूषण जाधव की पाकिस्तान में तैनाती के समय रॉ के मूल सिद्धांतों को भी नज़र अंदाज़ किया गया था! रिपोर्ट में रॉ के पूर्व अधिकारियों का हवाला देते हुए लिखा गया है कि कुलभूषण जाधव ख़ुफ़िया एजेंसी के काम के विशेषज्ञ नहीं थे और न ही उन्हें ख़ुफ़िया जानकारी इकट्ठा करने का तरीक़ा आता था!

चंदन नन्दे ने शुक्रवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर यह ख़बर साझा की थी! हालांकि, वेब साइट पर समाचार के प्रकाशित होने के कुछ घंटों के बाद ही यह कहकर हटा दी गई कि “द क्विंट” संस्थान लेख में कुछ सूचनाओं की जांच कर रहा है!

पाकिस्तानी विदेश मंत्री के प्रवक्ता डॉक्टर मोहम्मद फ़ैसल ने शनिवार को ट्वीट करते हुए कहा कि “जिस पत्रकार ने कुलभूषण जाधव के बारे में जानकारी प्रकाशित की थी वह ग़ायब हो गया है या लोगों के सामने नहीं आ रहा है”

सोशल मीडिया पर लोगो ने “द क्विंट” पर जमकर निशाना साधा और लताड़ लगायी! लोगो ने “द क्विंट” को “बनावटी पत्रकारिता”, “दुश्मन देश को अपना देश बेचना” और “ग़लत रास्ते पर चलना” जैसे आरोप भी लगाए!

देखिये लोगो ने इसके विरोध में क्या लिखा